Menu
News

महीनों बाद उदयपुर में मिले 13 संक्रमित।

Increased cases of corona in udaipur

कोरोनावायरस सामान्य सर्दी से कोविड-19 तक श्वसन संक्रमण का कारण बनते हैं। हाल ही के वर्षों में कोरोनावायरस ने  कई प्रकोप पैदा किया है, जैसे कि गंभीर तीव्र श्वसन सिंड्रोम और मध्य पूर्व श्वसन सिंड्रोम। लेकिन इन वायरस ने उतने लोगों को प्रभावित नहीं किया है, जितना कोविड-19 ने किया है।

चीन के वूहान शहर से उत्पन्न होने वाला 2019 नोवेल कोरोनावायरस इसी समूह के वायरसों का एक उदाहरण है, जिसका संक्रमण सन् 2019-20 काल में शुरू हुआ था। WHO ने इसका नाम कोविड -19 नाम रखा।

उदयपुर जिले में कई महीनों बाद फिर शहर में एक्टिव केस आए हैं। रविवार को इनकी संख्या 10 थी, दूसरे दिन इनकी संख्या 3 थी, कुल इसके अभी 13 मरीज़ है। चिकित्सा एवं स्वास्थय विभाग के अनुसार कोरोना अब फिर से बढ़ने लगा है, रोज़ कोरोना के कई केस फिर से सामने आने लगे हैं।

तीन दिन से तो 3-3 मरीज रोज़ संक्रमित आ रहे हैं। 13 में से एक संक्रमित का उपचार अब अस्पताल में किया जा रहा है। बाकि के सभी अभी होम आइसोलेट हैं। गत 20 मई को भी 3 संक्रमित मिले थे। डॉ. दिनेश खराड़ी ने बताया था की कुल 187 नमूनों की जांच की गई, जिसमे से 3 संक्रमित शहरी क्षेत्र में मिले है।

अब तक कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 74297 हो चुकी है, इनमे से 73514 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके है। फिलहाल होम आइसोलेशन और एक्टिव मरीजों की संख्या 8-8 है।कोरोना से 775 लोग काल का ग्रास बन चुके है। गत 17 मई तक 17 संक्रमित मिले थे, फिर 18 से 23 मई तक 6 दिनों में 13 मरीज मिले थे ऐसे में 1 से 23 मई तक 23 संक्रमित सामने आ चुके है। इस से पहले अप्रैल में 15 संक्रमित मिले थे।

कोरोना वायरस से पीडित जनो के लक्षण, अनावरण होने के 2 से 14 दिनो के बाद दिखाई देते हैं | यह लक्षण अधिकतर सौम्य होते है और सामन्य रूप मे इनकी उपेक्षा कि जाती है | कुछ लोगो के संक्रमित होने के बावजूद इनमे कोई लक्षण दिखाई नही देते है। कोई लक्षण ना दिखने पर भी ये संक्रमण हो सकते है।

कोरोना वायरस इंफेक्शन के लक्षण क्या हैं?
कोरोनावायरस की वजह से रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट यानी श्वसन तंत्र में हल्का इंफेक्शन हो जाता है जैसा कि आमतौर पर कॉमन कोल्ड यानी सर्दी-जुकाम में देखने को मिलता है। हालांकि इस बीमारी के लक्षण बेहद कॉमन हैं और कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से पीड़ित न हो तब भी उसमें ऐसे लक्षण दिख सकते हैं। जैसे-

  • नाक बहना
  • सिर में तेज दर्द
  • सूखी खांसी
  • गले में खराश
  • उल्टी-दस्त
  • थकान – बदन दर्द
  • सांस लेने में तकलीफ
  • सूंघने की क्षमता
  • ब्रॉन्काइटिस
  • निमोनिया

 

No Comments

    Leave a Reply