Art of Living tends to develop a stress-free society

The dedicated volunteers of “ART OF LIVING” organization under guidance of faculty , SIDDHARTH PANDEY has taken an initiative for the betterment of society, in which the youth of Udaipur is taking an active participation.
The organisation is developing a Stress-free, Addiction-free, eco-friendly and a harmonious society, through Meditation, Yoga, Sudarshan Kriya, social service projects and interactive workshops.

DSCN7676

DSCN7643

FB_IMG_1465745983534

DSCN7698 - Copy

DSCN7995

Currently,
Free Meditation & Yoga camps are organized in these special institutions:

  1. Apna Ghar Orphanage
  2.  Sanjeevni Sansthan Orphange.
  3. Ashadham Ashram.
  4. Narayan Seva Sansthan and many more.

For details contact:
Siddharth Pandey
+91-9460509642
aolsiddharth1@gmail.com
(Art of Living yoga coordinator, Rajasthan)
Check out our Facebook Page:
https://m.facebook.com/AOLYogaUdr/

लालन स्वागत में उमड़े झीलों की नगरी वासी

शोभायात्रा और दर्शनों को उमड़ा  जन ज्वार | रात सवा दस बजे दिए लालन ने दर्शन | देर रात तक चलते रहे दर्शन | आज वन झूलत नटवर लाल मनोरथ में अलोकिक दर्शन कर अभिभूत हुए भक्तजन | देश विदेश से आए हजारों भक्त | बुधवार को दिन भर चलेगा दर्शनों का क्रम 

Udaipur | ढोल नगाढो और गाजे बाजे के साथ लालन प्रभु आज नाथद्वारा से रवाना होकर उदयपुर पहुंचे। 214 साल बाद लालन प्रभु श्रीनाथ जी की चरण चौकी उदयपुर में पहुंचे जहॉं लालन प्रभु के स्वागत में उदयपुर वासियों ने पलक पावडे बिछा दिये। उदयपुर सीमा में प्रवेश होने के साथ ही लालन प्रभु का भव्य स्वागत शुरू हुआ। भक्त लालन प्रभु की एक झलक पाने को आतुर दिखे। उदयपुर सीमा में जैसे जैसे लालन प्रभु का कारवा आगे बढता गया भक्तों की संख्या भी प्रभु के सा​थ जुडती गई। भक्तों का उत्साह इससे साफ जाहिर होता हैं कि जो शोभायात्रा आरएमवी स्कुल से दो बजे निकलने वाली थी वहीं लालनप्रभु आरएनवी स्कुल तक करीब सात बजे तक पहुंच सके। उदयपुर सीमा में आने के बाद सैंकडो जगह लालन का स्वागत किया गया वहीं पुरे रास्ते लाखों लोग पलकपावडे बिछा कर प्रभु का इन्तेजार करते देखे गये। लाल कार में लालन को उदयपुर लाया गया वहीं जहॉं से जहॉं लालन की शोभायात्रा गुजरी लालन के हाथ लगाने को लोगों में होड मची रही।

Lalan Prabhu in Udaipur

रात 10 बजे लालन के हुए मनोरथ दर्शन
आज वन झुलत नटवर लाल मनोरथ में पूरा हिंडोलना वन की तरह सजाया गया रात को 10 बजे हुए दर्शन में लाखो लोगो ने प्रभु लालन के दर्शन किये । देर रात तक दर्शन चलते रहे। शोभा यात्रा में तिलकायत राकेश जी महाराज, गोष्यामि विशाल बाबा, छड़ीदार जी, मंदिर मंडल के अधिकारी सुधाकर जी शास्त्री मंदिर मंडल CEO जगदीश चंद्र पुरोहित लालन मनोरथ समिति के पधादीकारी विभिन्न संगठनो के विभिन्न समाजो के प्रतिनिधि साथ चल रहे थे।

Photo: Rakesh Soni
Photo: Rakesh Soni
Photo: Rakesh Soni
Photo: Rakesh Soni
Photo: Rakesh Soni
Photo: Rakesh Soni

11745506_920967727961558_6314249136398336012_n

Lalaan inUdaipur Shreenath Ji Nathdwara
मनोरथ समिति ने किया अम्बेरि में स्वागत मनोरथ समिति के संरक्षक नगीन दास पारीख सहसंरक्षक कनुभाई भुवनेश भाई शाह धर्मनारायण जोशी नवनीत पारीख जयंती लाल पारीख राजेश भाई मेहता हेमेन्द्र श्रीमाली किशोर भाई व्यास अशोक बाल्दी नरेंद्र पारीख हेमंत चौहान सहित सेकड़ो पदाधिकारियो ने लालन प्रभु का स्वागत किया।

[Photos] धूमधाम से मना कान्हा का जन्मदिन – फूटी मटकी, झूम उठे भक्त

हर साल की तरह इस साल भी जगदीश मंदिर में हर्षोल्लास के साथ मनाई गई कृष्ण जन्माष्टमी। बिजली की सजावट से मंदिर परिसर जगमग हो गया। इससे यह प्रतीत हो रहा था कि अब वृंदावन यहीं है। यह रंगारंग कार्यक्रम धर्मोत्सव समिति द्वारा आयोजित होता है ।

कहीं फूटी मटकी, तो कहीं झूमीं राधा

Janmashtmi in Udaipur

Janamshtmi in udaipur

Janmashtmi - Udaipur

DSC_0046 (Large) DSC_0066 (Large) DSC_0104 (Large) DSC_0117 (Large)

janmashtmi in Udaipur

DSC_0265 (Large) DSC_0273 (Large) DSC_0310 (Large)

Photos & Video by : Yash Sharma

जगन्नाथ रथ यात्रा में पलक पावडे बिछाने को आतुर भक्तगण

  • Jagganath Rath Yatra - 2013जगदीश मंदिर से बुधवार को निकलने वाली भगवान जगन्नाथराय की रथयात्रा की तैयारियां पूर्ण ।
  • रथ यात्रा का आगाज़ जगदीश चौक पर 101 किलो पुष्पवर्षा मेवाड़ सेना द्वारा किया जायेगा ।
  • रथयात्रा की शुरुआत में 21 बन्दूको से सलामी मेवाड प्रताप दल द्वारा की जाएगी ।

  • रथ यात्रा मार्ग में महकेगा केवड़ा और गुलाब ।

  • रथयात्रा का होगा सैकड़ो जगह भव्य स्वागत ।

  • रजत रथ सज धज कर तैयार । भक्तों के लिए दर्शनार्थ रखा जायेगा ।

  • रथ यात्रा मार्ग में सभी व्यवस्थाये पूर्ण ।

  • रथ यात्रा में जगह जगह मार्ग में तोप से पुष्पवर्षा ।

  • आज सायकल 8 बजे पूर्ण विधि विधान से रथ के 100 से अधिक पुर्जों को जोड़ कर रथ तैयार ।

  • जनता में भरी उत्साह । विभिन समाज संघठनो ने तय्यारी में पूरी ताकत लगायी ।

  • प्रशासन मुश्तैद । सुरक्षा के विशेष इंतज़ाम ।

  • यात्रा मार्ग में छोटी LIGHTS से सजाया ।

  • धर्मोत्सव समिति द्वारा झांकियों का क्रम आवंटन किया गया ।

Jagannath Dham Udaipur

15 दिन बाद फिर प्रकट होंगे भगवन जगन्नाथ : प्राकट्य उत्सव

रथयात्रा से एक दिन पूर्व अर्थात् तिथि संवत् 2070 की आषाढ़ शुक्ल पक्ष 1, मंगलवार दिनांक 09 जुलाई, 2013 को दोपहर 12.30 बजे भगवान जगन्नाथजी का प्राकट्य होगा। मन्दिर में इस अवसर को प्राकट्य उत्सव के रूपमें मनाया जा रहा है। स्मरण रहे कि भगवान श्रीजगन्नाथजी का महास्नान ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष, पूर्णिमा को होता है।

Jagannath Dham Udaipur

 

इस दिन भगवान की चारों मूर्तियां (बलभद्रजी, सुभद्राजी, जगन्नाथजी एवं सुदर्शनजी) रत्नवेदी से आकर स्नान वेदी में 108 सुवर्णघट जल से स्नान करके गणेश रूप धारण करते हैं। उस दिन से भगवान रत्न सिंहासन पर 15 दिन तक अस्वस्थ रहते है, अतः पट बन्द रहते हैं, आषाढ़ मास की अमावस तक दर्शन नहीं देते हैं, तथा औषधि-भोगका ही सेवन करते हैं। आषाढ़ शुक्ल पक्ष 1 को पुनः दर्शन देते हैं, भगवान का यह प्राकट्य उत्सव के रूपमें आयोजित होता है। इस दिन भगवान को दोपहर में 12.30 बजे 21 प्रकार के व्यन्जनों को भोग अर्पित किया जायगा, तदुपरान्त सभी भक्तगण प्रसाद ग्रहण करेंगे।

 

देर रात तक झूमे भक्त । जगनाथ धाम में भव्य भजन संध्या

हाई टेक होगी रथयात्रा की कवरेज, विदेश में बेठे उदयपुरवासी भी ले सकेंगे आनंद

जगन्नाथ रथयात्रा 10 जुलाई को – पहली बार सोनावेश में नगर भ्रमण पर निकलेंगे भगवान जगन्नाथ