Udaipur World Music Festival begins with Boom

The most awaited event of the recent times, “Udaipur World Music Festival” began on 13th of February, 2016, Sunday afternoon at Fateh Sagar Paal. The festival commenced with Serbia’s famous composer Aleksandar Simic’s melodious Piano along with Fakhroddin Ghaffari of Iran.Simic marked that Udaipur gives him a potryal of that of a beautiful Indian woman and he is immensely glad to be playing at a venue as pleasing as that after a long time.ApJwaqVHb4DSd55dGSzu0b62p2SgQ_BPNy3mDCC__SqA

AuTD3NOw_8q4qdqibvsmobln_0DqvfBixLI77SF1pMqT

AlkkYPQniTcz4TWBwSZ_wv9dACDzQLDEBK-O1PHNaPx4

AuWNDvlGWgs7-3hnTdaRq1Rc3wlOSI8wv-E77pF_wv2h

Att41K0FYNDahzafaq6yzJFXSZ4DmGWNloIgWLfCAHfe

 

The instrumental Quintent also included performances by Saskia Rao-de Haas from Netherlands along with Shubhendra Rao followed by the performance of Sharat Chandra Srivastava of India. Performances that proceeded in the afternoon were of FADIO and INSTRUMENTAL GUITAR by Carmio of Portugal and Jose Maria Gallardo Del Rey of Spain, respectively. Fatehsagar witnessed a dazzling Sunday noon. Further the evening of the musical gala held at Railway Training Ground witnessed the Chief Minister of Rajasthan, Vasundhara Raje. It was marked by her that the event has the potential to be included in the yearly calendars of International and National tourists. The performances in the evening comprised an impelling Flamenco Music and Dance show given by Juanma Zurano and Tamara. Paso a dos. of Spain followed by the conduct of strikking African beat music by Dobet Gnahore from Ivory Coast. Postliminary was the overwhelming performance of the Rock Fusion Band by Raghu Dixit on lead. The audience of the gala had a terrific time enjoying and dancing to the vigorous flow of rhythms in the air making the event a cheerful success.

Article: Rakshanda Hada | Photos: Siddharth Nagar

सनराईज प्रिमीयर लीग – दो दिवसीय प्रतियोगिता का समापन हुआ

सनराईज ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूषं- उदयपुर के अन्तर्गत सनराईज प्रिमीयर लीग क्रिकेट कि दो दिवसीय प्रतियोगिता का समापन आरसीए ग्राउण्ड में आज दिनांक- 22.02.2014 को हुआ। प्रतियोगिता का षुभारम्भ संस्थान के चेयरमैन श्री हरीष राजानी, निदेषक हिमांषु जैन, प्राचार्य श्री गजंफर अली एवं सनराईज नर्सिंग काॅलेज के प्राचार्य श्री योगेष उपाध्याय द्वारा किया गया। सेमी फाईनल प्रथम मैच डिप्लोमा मैकेनिकल एवं बीटेक प्रथम वर्श व द्वितीय मैच डिप्लोमा इलेक्ट्रिकल एव ंबीटेक इलेक्ट्रिकल में हुआ । जिसमें विजेता टीम डिप्लोमा मैकेनिकल व डिप्लोमा इलेक्ट्रिकल रही। फाइनल मैच मे सनराईज प्रिमीयर लीग क्रिकेट प्रतियोगिता कि विजेता टीम इलेक्ट्रिकल रही। विजेता टीम कि तरफ से विनोद कुमार खोईवाल ने षानदार बल्लेबाजी करते हुए सर्वाधिक 109 रन बनाये। इलेक्ट्रिकल ने निर्धारित 12 ओवरों में 138 रनों का लक्ष्य दिया जिसमें लक्ष्य का पीछा करते हुए डिप्लोमा मैकेनिकल टीम 122 रन पर ही सीमट गई।

SPL

SPL

SPL

IMG-20140222-WA0018

विजेता टीम – डिप्लोमा इलेक्ट्रिकल
रनर अप टीम – डिप्लोमा मैकेनिकल
मैन आॅफ द सीरीज – विनोद कुमार खोईवाल
मैन आॅफ द मैच – विनोद कुमार खोईवाल

उक्त सेमीफाईनल एवं फाईनल मैच में भाग लेने हेतु विद्यार्थियों को उत्साह बहुत अधिक देखा गया।
खेल सप्ताह के अंतर्गत कब्बड्ी टी़टी़ वालीबॅाल व षतरंज आदि प्रतियोगिताओं में भी छात्र-छात्राओं ने अत्यधिक उत्साह से भाग लिया।

कांग्रेस सत्ता में आने के लिए जातिवाद, साम्प्रदायिकता को बढ़ावा देती है – नितिन गडकरी

उदयपुर 30 जुलाई 2013। भारतीय जनता पार्टी शहर जिला उदयपुर के सक्रिय कार्यकर्ताओं का सम्मेलन टाउनहाल स्थित सुखाडि़या रंगमंच पर भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी के मुख्य आतिथ्य एवं नेता प्रतिपक्ष पूर्व गृहमंत्री गुलाबचन्द कटारिया की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम के अतिथि शहर जिलाध्यक्ष दिनेश भट्ट एवं देहात जिलाध्यक्ष सुन्दरलाल भाणावत, महापौर रजनी डांगी थे।

Nitin Gadkari in Udaipur

प्रारम्भ में महापौर रजनी डांगी ने स्वागत करते हुए पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी एवं उपस्थित कार्यकर्ताओं का अभिनन्दन किया। शहर जिलाध्यक्ष दिनेश भट्ट ने जिले का वृत प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।
नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि मेवाड़ की इस धरती का जनसंघ से लेकर आज तक भारतीय जनता पार्टी को आशीर्वाद मिला है। इसी के बूते पर पूर्व 9 विधानसभा चुनावों में से 7 चुनावों में और नगर परिषद पिछले लगातार चार बोर्डों में पार्टी को जनता का आशीर्वाद मिला है। उन्होंने राष्ट्रीय नेता को विश्वास दिलाया कि इस बार मेवाड़ के भरोसे राजस्थान में पार्टी की सरकार बनेगी। 2013 सेमीफाइनल होगा और 2014 में फाइनल के साथ ही भारतीय जनता पार्टी का सुशासन स्थापित होगा। कटारिया ने कहा कि यह भारतीय जनता पार्टी ही है जहां एक सामान्य कार्यकर्ता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद तक पहुंच सकता है।
मुख्यवक्ता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी ने खचाखच भरे नगर निगम के सुखाडि़या रंगमंच पर उपस्थित सक्रिय कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारा दायित्व है कि हमारी संस्कृति के आधार पर हमारे धर्म की सही व्याख्या जनता तक पहुंचे। कांग्रेस ने हिन्दु धर्म को तुष्टिकरण के चलते साम्प्रदायिकता का पर्याय बना दिया है। हमारी मान्यता है कि सभी धर्मों को समानता और भाईचारा मिले। कांग्रेस ने मुस्लिम समाज में वोट बैंक के तहत भाजपा के बारे में एक डर पैदा कर दिया है। जबकि पं. दीनदयाल उपाध्याय ने अपनी पार्टी की विचारधारा में अन्त्योदय को अर्थात् समाज के अन्तिम व्यक्ति शोषित, दलित व पिछड़े व्यक्ति के उत्थान बात कही। उसमें धर्म और जाति को कहीं कोई उल्लेख नहीं था। सभी समाज के लिए यह विचारधारा प्रतिपादित की। उनका कहना कि दरिद्र को ही भगवान माने और उसकी हर संभव सेवा करें। जिस दिन शोषित, पीडि़त व्यक्ति को रोटी, कपड़ा और मकान मिल जाएगा उसी हमारा काम पूरा होगा। तब तक हम चैन से नहीं बैठेंगे। हम जातिवाद की राजनीति पर विश्वास नहीं करते हैं। कांग्रेस सत्ता में आने के लिए जातिवाद, साम्प्रदायिकता को बढ़ावा देती है।
पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कार्य के आधार पर कांग्रेस कभी भी चुनाव नहीं जीत सकती है। 100 दिनों में महंगाई कम करने का वादा करके सत्ता में आने के पश्चात् अपना वादा भूल गई। बढ़ती महंगाई से गरीब का जीना दूभर हो गया, किसान आत्महत्या कर रहे हैं, उद्योग-धंधे बंद होने के कगार पर हैं, विदेशी विनिवेश आना बन्द हो गया है और अर्थशास्त्री प्रधानमंत्री के राज में रूपये का अवमूल्यन हो रहा है। 1947 में एक डाॅलर प्रति एक रूपया का भाव था परन्तु वर्तमान में वह 60 रूपया प्रति डाॅलर तक पहुंच गया। अटल बिहारी वाजपेयी के शासन में जीडीपी 8.5 प्रतिशत थी जो आज 4.5 प्रतिशत तक पहुंच गई है। मध्यप्रदेश में कृषि विकास दर 18.90 प्रतिशत, गुजरात में 11.05 प्रतिशत है और देश की मात्र 2.5 प्रतिशत है अर्थात् भाजपा सुशासन देगी यह हमारी सरकारों की कार्यप्रणाली प्रमाणित करती है। इस देश को गरीबी और भूखमरी खत्म करने की ताकत यदि किसी में हैं तो केवल भारतीय जनता पार्टी में है।
गडकरी ने कहा कि कांग्रेस कन्वीन्स नहीं सकती तो कन्फ्यूस करने की रणनीति बनाती है। कांग्रेस को करारा जवाब देना होगा। आने वाले चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की युवा तरूणाई अपनी विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य करें। जीत हमारी होगी। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी की मुख्य विचारधारा राष्ट्रवाद है। यह राष्ट्र किसी एक का नहीं है। उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि यह अलग बात है कि प्रधानमंत्री के पेट से प्रधानमंत्री और अध्यक्ष के पेट से अध्यक्ष पैदा होता है। भारतीय जनता पार्टी आम कार्यकर्ताओं की पार्टी है हजारों लाखों कार्यकर्ताओं के समर्पण से तैयार हुई पार्टी है। हमारी विचारधारा राष्ट्र का निर्माण है। नेहरूजी ने रूस का माॅडल चयन किया मगर आज समाजवाद-साम्यवाद और साम्यवाद पूरी तरह धराशायी हो चुके हैं। हमारी विचारधारा की दिशा सही है। पूरे आत्मविश्वास के साथ हम कार्य करें। हम राज ही नहीं समाज को भी बदलें। कांग्रेस के कुशासन में देश धनवान होते हुए भी इसकी जनता गरीब है। देश को बचाना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि हमारी सीमाएं सुरक्षित नहीं है। चीन, पाकिस्तान, बांग्लादेश घुसपैद कर रहैं हैं। आसाम में तो 36 प्रतिशत तक बांग्लादेशी घुस चुके हैं। आतंकवाद, नक्सलवाद चरमसीमा पर है। उनसे लड़ने वालों को तो सरकार जेल भेज रही है। विपक्ष के नेताओं पर अनर्गल आरोप लगा सीबीआई का दुरूपयोग कर रही है। कांग्रेस के कुशासन में सीबीआई कांग्रेस ब्यूरो आॅफ इन्वेस्टीगेशन के रूप में कांग्रेस की सहयोगी बनी हुई है।
उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि हमें राष्ट्र का पुनर्निर्माण करना है। प्रचार-प्रसार और फोटो छापने से नेता नहीं बनते हैं, देश की जनता और कार्यकर्ता नेता बनाते हैं। कार्यकर्ताओं की मेहनत और परिश्रम की वजह से हमें पहले भी शासन करने का अवसर प्राप्त हुआ। समाज के हर तबके को पार्टी से जोड़ना होगा और कांग्रेस की तुलना में 14 प्रतिशत मतदान बढ़ाना होगा। इसके लिये हर वर्ग में पार्टी के कार्यकर्ता को तैयार करना होगा। हर जाति, समाज को पार्टी से जोड़ना होगा। नेताओं को बड़ा दिल रखते हुए विरोधियों को भी जोड़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा का शासन मेवाड़ के कारण आएगा। सभी एकजुटता से खड़े हो। हमारा सपना सुखी-समृद्ध-शक्तिशाली देश बनाना है और आतंकवाद-नक्सलवाद को कुचल देश को पुनः जगत गुरू बनाना है। उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी की काव्य रचना ‘‘छोटे दिल से कोई बड़ा नहीं होता, और टूटे दिल से कोई खड़ा नहीं होता‘‘ की बात कह कर कहा कि प्रत्येक कार्यकर्ता का सम्मान होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनता विकल्प ढंूढ़ रही है भाजपा इसका जवाब है। जनता को हमसे अपेक्षाएं है और हमें उन पर खरा उतरना है। देश के हालात को सुधारना है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि आत्मविश्वास से कार्य करें, सफलता चुनौती है इसे स्वीकार करें, विजय का लक्ष्य बनाकर चले सफलता प्राप्त होगी।
इससे पूर्व पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गडकरी का माल्यार्पण कर व पगड़ी पहना कर स्वागत किया। कार्यक्रम के अन्त में पूर्व प्रदेश मंत्री प्रमोद सामर ने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी को ‘‘सहकारिता से अन्त्योदय‘‘ एवं ‘‘पर्यटन सहकारिता‘‘ दो पुस्तकें भेंट की। महापौर रजनी डांगी ने उपमहापौर एवं समिति अध्यक्षों, पार्षदों के साथ पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष को स्मृति स्वरूप प्रताप की प्रतिमा भेंट की।
कार्यक्रम का संचालन शहर जिला महामंत्री लोकेश द्विवेदी ने किया एवं धन्यवाद पूर्व प्रदेश मंत्री प्रमोद सामर ने दिया।

उदयपुर के 461 वें स्थापना दिवस पर विचार गोष्ठी

उदयपुर, 11 मर्इ।सुनियोजित विकास की अनदेखी के होंगे गम्भीर परिणाम – उदयपुर के सुनियोजित विकास में अब तक हुर्इ गलतियों को सुधारा नहीं गया तो आने वाली पीढि़यां हमें क्षमा नहीं करेंगी। यह बात शनिवार को उदयपुर विचार मंच, महाराणा प्रताप वरिष्ठ नागरिक संस्थान एवं नारायण सेवा संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में उदयपुर नगर की स्थापना के 461 वें दिवस पर हिरण मगरी सेक्टर-4 के मानव मंदिर में आयोजित ”विचार-गोष्ठी में मोहनलाल सुखाडि़या विश्वविधालय के कुलपति प्रो. आर्इ.वी. त्रिवेदी ने प्रमुख अतिथि के रूप में बोलते हुए कही। उन्होंने कहा कि उदयपुर की सांस्कृतिक धरोहर और प्राकृतिक सुषमा को बचाये रखने के काम को जन आन्दोलन का रूप देना होगा। इसमें विश्वविधालय अपनी सकारात्मक भूमिका के साथ सदैव तैयार रहेगा। नगर निगम निर्माण समिति के अध्यक्ष प्रेमसिंह शक्तावत ने अध्यक्षता करते हुए कहा कि स्वतन्त्रता के बाद उदयपुर के नियोजित विकास की अनदेखी का परिणाम ही आज के उदयपुर की समस्या है।

Meeting on 461th Foundation Day of Udaipur Meeting on 461th Foundation Day of Udaipur

बेतरतीब विकास के लिए प्रशासन के साथ-साथ एक हद तक जनता भी जिम्मेदार है। अपने शहर के व्यवसिथत विकास में पूरी तरह रचनात्मक सोच के साथ आगे आना होगा। नारायण सेवा संस्थान के संस्थापक श्री कैलाश मानव ने कहा कि हमकों इस शहर ने बहुत कुछ दिया है अब बारी हमारी है। हम भी ऐसा कुछ करें कि यह ऐतिहासिक और प्राकृतिक सुषमा से आवेषिटत शहर अपने गौरव और गरिमा को कायम रखते हुए नित नया निखार पाता रहे। इससे पूर्व नारायण सेवा संस्थान की ओर से अध्यक्ष डा. प्रशान्त अग्रवाल, उदयपुर विचार मंच की ओर से चोसरलाल कच्छारा व महाराणा प्रताप वरिष्ठ नागरिक संस्थान की ओर से महासचिव श्री भंवर सेठ ने अतिथियों का स्वागत किया। कवयित्री श्रीमती रामप्यारी भटनागर ने र्इश वंदना प्रस्तुत की। विशिष्ठ अतिथि प्रो. नरपतसिंह राठौड़ ने कहा कि नदियों को मोड़ने और जोड़ने की हम आज सिर्फ बातें ही करते है जबकि यह कार्य उदयपुर के महाराणाओं ने बहुत पहले ही शुरू कर दिया था। जिसे अब आगे बढ़ाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सन 1670-80 के बीच उभेश्वर नदी जो पहले छोटे और बडे मदार में जाकर गिरती थी उसे धार गांव के पशिचम में मोड़कर मोरवानी से जोड़ा गया। उन्होंने बताया कि उदयपुर बेसिन में औधोगिक इकाइयों की स्थापना से काफी नुकसान हुआ है। प्रो. एस.के. गुप्ता ने सेटेलार्इट टाउन उदयपुर के बाहर गोगुन्दा, मावली, वल्लभनगर आदि क्षेत्रों में विकसित करने और उदयपुर नगर को विश्व धरोहर की मान्यता दिये जाने पर जोर दिया। भंवरसेठ ने कहा कि इस शहर की आर्थिक धूरी पर्यटन है जिस पर पूरे सोच विचार के साथ ध्यान दिया जाना चाहिए। शहर नगर निगम बन गया है, अब इसे बी-2 श्रेणी का दर्जा भी मिलना चाहिए। दिलीपसिंह राठौड़ ने पर्यटन विकास के कुछ आधाभूत बिन्दुओं पर चर्चा की तो प्रो. सज्जनसिंह राणावत ने कहा कि उदयपुर के भविष्य को सुन्दर और सुखद बनाने के लिए इसका अतीत ही आधार हो सकता है। यहां की झीलों और हेरिटेज र्इमारतों और शहर का संरक्षण किया जाना चाहिए। समारोह के प्रमुख संयोजक श्री विष्णु शर्मा ”हितैषी ने उन समस्याओं का जिक्र किया जो शहर के अतीत को धुन्धला करने पर तुली हैं। उन्होने गोष्ठी में भाग लेने वाले अतिथियों व नागरिकों का आभार व्यक्त किया और कहा कि उदयपुर का हित चिन्तन प्रशासन के जिम्मे नहीं छोड़कर हम सब को एक राय होकर करना होगा। गोष्ठी का संयोजन श्री महिम जैने ने किया। संस्थान अध्यक्ष डा. प्रशान्त अग्रवाल व निदेशक श्रीमती वंदना अग्रवाल ने अतिथियों का मेवाड़ी पाग व उपरणा पहनाकर अभिनन्दन किया।

आज धानमंडी में सजेगा खाटू श्याम बाबा का भव्य दरबार

bu khatu shyam bhajan sandhya in udaipur

हनुमान चौक धानमंडी में आज शनिवार रात्रि 07:30 बजे से खाटू नरेश का भव्य दरबार लगेगा तथा पूरी रात भक्तों पर इत्र -गुलाब पंखुडियो व भजनों की रस वर्षा होगी ।