Udaipur World Music Festival begins with Boom

The most awaited event of the recent times, “Udaipur World Music Festival” began on 13th of February, 2016, Sunday afternoon at Fateh Sagar Paal. The festival commenced with Serbia’s famous composer Aleksandar Simic’s melodious Piano along with Fakhroddin Ghaffari of Iran.Simic marked that Udaipur gives him a potryal of that of a beautiful Indian woman and he is immensely glad to be playing at a venue as pleasing as that after a long time.ApJwaqVHb4DSd55dGSzu0b62p2SgQ_BPNy3mDCC__SqA

AuTD3NOw_8q4qdqibvsmobln_0DqvfBixLI77SF1pMqT

AlkkYPQniTcz4TWBwSZ_wv9dACDzQLDEBK-O1PHNaPx4

AuWNDvlGWgs7-3hnTdaRq1Rc3wlOSI8wv-E77pF_wv2h

Att41K0FYNDahzafaq6yzJFXSZ4DmGWNloIgWLfCAHfe

 

The instrumental Quintent also included performances by Saskia Rao-de Haas from Netherlands along with Shubhendra Rao followed by the performance of Sharat Chandra Srivastava of India. Performances that proceeded in the afternoon were of FADIO and INSTRUMENTAL GUITAR by Carmio of Portugal and Jose Maria Gallardo Del Rey of Spain, respectively. Fatehsagar witnessed a dazzling Sunday noon. Further the evening of the musical gala held at Railway Training Ground witnessed the Chief Minister of Rajasthan, Vasundhara Raje. It was marked by her that the event has the potential to be included in the yearly calendars of International and National tourists. The performances in the evening comprised an impelling Flamenco Music and Dance show given by Juanma Zurano and Tamara. Paso a dos. of Spain followed by the conduct of strikking African beat music by Dobet Gnahore from Ivory Coast. Postliminary was the overwhelming performance of the Rock Fusion Band by Raghu Dixit on lead. The audience of the gala had a terrific time enjoying and dancing to the vigorous flow of rhythms in the air making the event a cheerful success.

Article: Rakshanda Hada | Photos: Siddharth Nagar

Samvaah: IIM Udaipur’s Marketing Conclave, 2014

Samvaah– The first edition of the annual Marketing Conclave of IIM Udaipur was hosted on 15th November, 2014 at the institute.

Samvaah is a student driven initiative that was conceived and organized by MarClan- the Marketing Club of IIMU. Samvaah, in sync with its name’s translation- “Marketplace” is an initiative to bring together marketing enthusiasts from academia, the local community and industry alike, to share insights and discuss the various developments in the field of marketing.

IMG_2082

The umbrella theme for Samvaah 2014 was “Rethink: Changing Marketing Practices with Changing Times”.

The run-up to the event saw numerous online and on-campus competitions being held, with teams from the best B-schools across the country competing in terms of creativity, talent and marketing potential.

The event kicked off with a digital media workshop by Mr. Amit Tripathi- the CEO of Ideate Labs. The workshop began with a very intriguing statement: ‘Welcome to the funeral of digital media…’ and then went on to discuss how being digital has gone beyond just media channels like Facebook and twitter, to become all pervasive in other walks of life as well. Mr. Tripathi left the students with two important insights: that simplicity and finding common ground between the company and the consumer, are the mantra to successful marketing.

IMG_2049

The Sales Workshop that followed had the speakers- Mr. Martand Shukla, ASM of Pepsico and Mr. Bharat Nagori, one of the largest distributors in Udaipur, emphasize that profitability and availability were the major requirements of a good sales campaign, while reiterating the importance of considering sentiment and market experience while designing a sales and distribution strategy.

The next session included the finals of Juxtapose-a brand extension competition which saw students from IIM Indore (Mumbai Campus), SPJIMR and two teams from IIM Udaipur, do their best to impress the judges with the innovativeness and clarity of their ideas, with team WarClan of IIM Udaipur eventually winning the first prize. The judges also shared very unique insights on proper segmenting and positioning of the product, with the audience.

The post lunch session began with an address by Prof. Janat Shah-Director, IIM Udaipur. Prof. Shah laid emphasis on the three main focus areas of IIMU, namely research, transformation through the MBA program and integration with the local community, all of which were the driving factors behind the organization of Samvaah.

The event had two panel discussions whose sub themes and speakers were as follows:

Panel 1: Rethink Services Marketing- How is it different in today’s era?

Mr. Rathin Lahiri- CMO, Meru Cabs

Mr. Prashant Laxmeshwar- Head of Marketing Solutions, Global Markets Group-ICICI

Mr. Naveen Kukreja- IIMC Alumnus and CMO, Policy Bazaar

Panel 2: Rethink New Product Development-How is it changing with times?

Mr. Anshu Bagai- MD, AMC Cookware

Mr. Abhishek Sinha- Co-founder and CEO, Eko India Financial Services Private Ltd.

The event ended with a felicitation of the speakers and a vote of thanks. IIMU’s first marketing conclave was a resounding success with speakers and participants alike, appreciating the seamless organization of the entire event and the insights they gained through the discussions.

IIM Udaipur has always laid a strong emphasis on integrating with the local community and continuing this initiative, the conclave saw 65 participants from various institutes around Udaipur being part of the event. The first marketing conclave of IIM Udaipur indeed was a wonderful experience for all the participants and also helped the institute build a stronger relationship with both the industry and the community of Udaipur.

 

 

 

 

 

 

 

JK Udaipur standalone Dec ’13 sales at Rs 5.55 crore

JK Udaipur Udyog has reported a standalone sales turnover of Rs 5.55 crore and a net loss of Rs 1.47 crore for the quarter ended Dec ’13. For the quarter ended Dec 2012 the standalone sales turnover was Rs 0.00 crore and net loss was Rs 0.76 crore, and other income Rs 0.06 crore. JK Udaipur shares closed at 5.07 on February 10, 2014 (BSE) and has given -73.33% returns over the last 6 months and -73.33% over the last 12 months.

JK Udaipur standalone Dec  13 sales at Rs 5.55 crore   Moneycontrol.com

Source : Money Control

नारायण सेवा संस्थान में हर्षोंल्लास से मनाया गणतन्त्र दिवस

उदयपुर 27 जनवरी। नारायण सेवा संस्थान के हिरण मगरी सेक्टर-4 स्थित मानव मंदिर में गणतन्त्र दिवस पर रविवार प्रातः 7.30 बजे संस्थान-संस्थापक कैलाश मानव (पद्मश्री अलंकृत) के सान्निध्य में संस्थान बालगृह के मूक बधिर, प्रज्ञा चक्षु एवं विकलांग बच्चों ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस अवसर पर श्री मानव न कहा कि देश की आजादी के लिए शहीद हुए स्वतन्त्रता सेनानियों को आज सारा देश नमन कर रहा है। जिन्होंने परतन्त्रता की बेडियों को तोड़ते हुए हमें आजादी की खुली हवा में सांस लेने का अवसर दिया। अब हमारा यह कर्तव्य बनता है कि हम सुखी और समृद्ध भारत के लिए अपने दायित्वों का निर्वाह करें। उन्होंने कहा कि निर्धन, गरीब और वंचित वर्ग के लिए हम जो भी कुछ कर सके अवश्य करें। क्यांेकि वे भी समाज का अभिन्न अंग है। उनकी सुखी और प्रगति ही भारत को मजबूत बनायेगी। 

Republic Day at narayan Seva Sansthan

संस्थान अध्यक्ष प्रशान्त अग्रवाल ने बताया कहा कि आज हमें संकल्प लेना होगा कि कुरूतियों से दूर रहते हुए भारत की एकता और अखण्डता बनायें रखेंगे। बेबस, लाचार, अनाथ और दीनहीनों की सहायता करने के अपने मानवीय कर्तव्य से कभी विमुख नहीं होंगे। उन्होंने पर्यावरण को भी शुद्ध बनाये रखने की अपील की। इस कार्यक्रम के पश्चात संस्थान के अंकूर काम्पलेक्स में ध्वजा रोहण किया गया। संस्थान के ही बलिचा स्थित ‘‘अपना घर-सेवा परमो धर्म’’ में संस्थान अध्यक्ष प्रशान्त अग्रवाल व निदेशक श्रीमती वंदना अग्रवाल ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। यहां मुक बधिर, विमंदित एवं प्रज्ञा चक्षु बालकों ने बैण्ड वादन, जूड़ों कराटे व सांस्कृतिक कार्यक्रमों की सुन्दर प्रस्तुतियां दी। संस्थान के बड़ी स्थित सेवा महातीर्थ में संस्थान संस्थापक श्री कैलाश मानव व सहसंस्थापिका श्रीमती कमलादेवी अग्रवाल ने तिरंगा फहराया। इस अवसर पर संस्थान अध्यक्ष प्रशान्त अग्रवाल, श्रीमती वंदना अग्रवाल, डाॅ. अमरसिंह चूण्डावत, डाॅ. विष्णु माथूर, डाॅ. ए.के. पाण्डे, श्री राकेश शर्मा, श्री राजेन्द्र सोलंकी, सुश्री पलक, महर्षि, रविन्द्र त्यागी, महिम जैन आदि के साथ नीदरलैण्ड से आये अथिति तथा विभिन्न राज्यों से निःशुल्क आॅपरेशन के लिए आए पूर्व पोलियो ग्रस्त बच्चों के परिजनों ने भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन महर्षि अग्रवाल ने किया।
भण्डारी दर्शक मण्डप में आयोजित सम्भाग स्तरीय समारोह में संस्थान संस्थापक कैलाश मानव ने भाग लिया। इस समारोह में नारायण सेवा संस्थान की ओर से विकलांग सेवा सम्बन्धी झांकी को दर्शकों ने काफी सराहा।

 

 

 

कांग्रेस सत्ता में आने के लिए जातिवाद, साम्प्रदायिकता को बढ़ावा देती है – नितिन गडकरी

उदयपुर 30 जुलाई 2013। भारतीय जनता पार्टी शहर जिला उदयपुर के सक्रिय कार्यकर्ताओं का सम्मेलन टाउनहाल स्थित सुखाडि़या रंगमंच पर भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी के मुख्य आतिथ्य एवं नेता प्रतिपक्ष पूर्व गृहमंत्री गुलाबचन्द कटारिया की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम के अतिथि शहर जिलाध्यक्ष दिनेश भट्ट एवं देहात जिलाध्यक्ष सुन्दरलाल भाणावत, महापौर रजनी डांगी थे।

Nitin Gadkari in Udaipur

प्रारम्भ में महापौर रजनी डांगी ने स्वागत करते हुए पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी एवं उपस्थित कार्यकर्ताओं का अभिनन्दन किया। शहर जिलाध्यक्ष दिनेश भट्ट ने जिले का वृत प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।
नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि मेवाड़ की इस धरती का जनसंघ से लेकर आज तक भारतीय जनता पार्टी को आशीर्वाद मिला है। इसी के बूते पर पूर्व 9 विधानसभा चुनावों में से 7 चुनावों में और नगर परिषद पिछले लगातार चार बोर्डों में पार्टी को जनता का आशीर्वाद मिला है। उन्होंने राष्ट्रीय नेता को विश्वास दिलाया कि इस बार मेवाड़ के भरोसे राजस्थान में पार्टी की सरकार बनेगी। 2013 सेमीफाइनल होगा और 2014 में फाइनल के साथ ही भारतीय जनता पार्टी का सुशासन स्थापित होगा। कटारिया ने कहा कि यह भारतीय जनता पार्टी ही है जहां एक सामान्य कार्यकर्ता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद तक पहुंच सकता है।
मुख्यवक्ता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी ने खचाखच भरे नगर निगम के सुखाडि़या रंगमंच पर उपस्थित सक्रिय कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारा दायित्व है कि हमारी संस्कृति के आधार पर हमारे धर्म की सही व्याख्या जनता तक पहुंचे। कांग्रेस ने हिन्दु धर्म को तुष्टिकरण के चलते साम्प्रदायिकता का पर्याय बना दिया है। हमारी मान्यता है कि सभी धर्मों को समानता और भाईचारा मिले। कांग्रेस ने मुस्लिम समाज में वोट बैंक के तहत भाजपा के बारे में एक डर पैदा कर दिया है। जबकि पं. दीनदयाल उपाध्याय ने अपनी पार्टी की विचारधारा में अन्त्योदय को अर्थात् समाज के अन्तिम व्यक्ति शोषित, दलित व पिछड़े व्यक्ति के उत्थान बात कही। उसमें धर्म और जाति को कहीं कोई उल्लेख नहीं था। सभी समाज के लिए यह विचारधारा प्रतिपादित की। उनका कहना कि दरिद्र को ही भगवान माने और उसकी हर संभव सेवा करें। जिस दिन शोषित, पीडि़त व्यक्ति को रोटी, कपड़ा और मकान मिल जाएगा उसी हमारा काम पूरा होगा। तब तक हम चैन से नहीं बैठेंगे। हम जातिवाद की राजनीति पर विश्वास नहीं करते हैं। कांग्रेस सत्ता में आने के लिए जातिवाद, साम्प्रदायिकता को बढ़ावा देती है।
पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कार्य के आधार पर कांग्रेस कभी भी चुनाव नहीं जीत सकती है। 100 दिनों में महंगाई कम करने का वादा करके सत्ता में आने के पश्चात् अपना वादा भूल गई। बढ़ती महंगाई से गरीब का जीना दूभर हो गया, किसान आत्महत्या कर रहे हैं, उद्योग-धंधे बंद होने के कगार पर हैं, विदेशी विनिवेश आना बन्द हो गया है और अर्थशास्त्री प्रधानमंत्री के राज में रूपये का अवमूल्यन हो रहा है। 1947 में एक डाॅलर प्रति एक रूपया का भाव था परन्तु वर्तमान में वह 60 रूपया प्रति डाॅलर तक पहुंच गया। अटल बिहारी वाजपेयी के शासन में जीडीपी 8.5 प्रतिशत थी जो आज 4.5 प्रतिशत तक पहुंच गई है। मध्यप्रदेश में कृषि विकास दर 18.90 प्रतिशत, गुजरात में 11.05 प्रतिशत है और देश की मात्र 2.5 प्रतिशत है अर्थात् भाजपा सुशासन देगी यह हमारी सरकारों की कार्यप्रणाली प्रमाणित करती है। इस देश को गरीबी और भूखमरी खत्म करने की ताकत यदि किसी में हैं तो केवल भारतीय जनता पार्टी में है।
गडकरी ने कहा कि कांग्रेस कन्वीन्स नहीं सकती तो कन्फ्यूस करने की रणनीति बनाती है। कांग्रेस को करारा जवाब देना होगा। आने वाले चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की युवा तरूणाई अपनी विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य करें। जीत हमारी होगी। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी की मुख्य विचारधारा राष्ट्रवाद है। यह राष्ट्र किसी एक का नहीं है। उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि यह अलग बात है कि प्रधानमंत्री के पेट से प्रधानमंत्री और अध्यक्ष के पेट से अध्यक्ष पैदा होता है। भारतीय जनता पार्टी आम कार्यकर्ताओं की पार्टी है हजारों लाखों कार्यकर्ताओं के समर्पण से तैयार हुई पार्टी है। हमारी विचारधारा राष्ट्र का निर्माण है। नेहरूजी ने रूस का माॅडल चयन किया मगर आज समाजवाद-साम्यवाद और साम्यवाद पूरी तरह धराशायी हो चुके हैं। हमारी विचारधारा की दिशा सही है। पूरे आत्मविश्वास के साथ हम कार्य करें। हम राज ही नहीं समाज को भी बदलें। कांग्रेस के कुशासन में देश धनवान होते हुए भी इसकी जनता गरीब है। देश को बचाना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि हमारी सीमाएं सुरक्षित नहीं है। चीन, पाकिस्तान, बांग्लादेश घुसपैद कर रहैं हैं। आसाम में तो 36 प्रतिशत तक बांग्लादेशी घुस चुके हैं। आतंकवाद, नक्सलवाद चरमसीमा पर है। उनसे लड़ने वालों को तो सरकार जेल भेज रही है। विपक्ष के नेताओं पर अनर्गल आरोप लगा सीबीआई का दुरूपयोग कर रही है। कांग्रेस के कुशासन में सीबीआई कांग्रेस ब्यूरो आॅफ इन्वेस्टीगेशन के रूप में कांग्रेस की सहयोगी बनी हुई है।
उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि हमें राष्ट्र का पुनर्निर्माण करना है। प्रचार-प्रसार और फोटो छापने से नेता नहीं बनते हैं, देश की जनता और कार्यकर्ता नेता बनाते हैं। कार्यकर्ताओं की मेहनत और परिश्रम की वजह से हमें पहले भी शासन करने का अवसर प्राप्त हुआ। समाज के हर तबके को पार्टी से जोड़ना होगा और कांग्रेस की तुलना में 14 प्रतिशत मतदान बढ़ाना होगा। इसके लिये हर वर्ग में पार्टी के कार्यकर्ता को तैयार करना होगा। हर जाति, समाज को पार्टी से जोड़ना होगा। नेताओं को बड़ा दिल रखते हुए विरोधियों को भी जोड़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा का शासन मेवाड़ के कारण आएगा। सभी एकजुटता से खड़े हो। हमारा सपना सुखी-समृद्ध-शक्तिशाली देश बनाना है और आतंकवाद-नक्सलवाद को कुचल देश को पुनः जगत गुरू बनाना है। उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी की काव्य रचना ‘‘छोटे दिल से कोई बड़ा नहीं होता, और टूटे दिल से कोई खड़ा नहीं होता‘‘ की बात कह कर कहा कि प्रत्येक कार्यकर्ता का सम्मान होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनता विकल्प ढंूढ़ रही है भाजपा इसका जवाब है। जनता को हमसे अपेक्षाएं है और हमें उन पर खरा उतरना है। देश के हालात को सुधारना है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि आत्मविश्वास से कार्य करें, सफलता चुनौती है इसे स्वीकार करें, विजय का लक्ष्य बनाकर चले सफलता प्राप्त होगी।
इससे पूर्व पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गडकरी का माल्यार्पण कर व पगड़ी पहना कर स्वागत किया। कार्यक्रम के अन्त में पूर्व प्रदेश मंत्री प्रमोद सामर ने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी को ‘‘सहकारिता से अन्त्योदय‘‘ एवं ‘‘पर्यटन सहकारिता‘‘ दो पुस्तकें भेंट की। महापौर रजनी डांगी ने उपमहापौर एवं समिति अध्यक्षों, पार्षदों के साथ पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष को स्मृति स्वरूप प्रताप की प्रतिमा भेंट की।
कार्यक्रम का संचालन शहर जिला महामंत्री लोकेश द्विवेदी ने किया एवं धन्यवाद पूर्व प्रदेश मंत्री प्रमोद सामर ने दिया।