उदयपुर। जन संस्कृति मंच के बैनर तले उदयपुर फिल्म सोसायटी की ओर से तीसरा फिल्म फेस्टिवल आयोजित होने जा रहा है। जिसमें कई फिल्मों के प्रर्दशन सहित किस्सागों द्वारा कहानियां भी सुनाई जाएगी।

तीन दिवसीय फेस्टिवल का आयोजन आरएनटी मेडिकल कॉलेज के सभागार में 25 सितंबर से होगा।

उदयपुर फिल्म सोसायटी के संयोजक शैलेन्द्रप्रतापसिंह भाटी ने बताया कि जन संस्कृति मंच के बैनर तले आयोजित कार्यक्रम की तैयारियां युद्ध स्तर पर जारी है। यह आयोजन एफटीआई छात्र संघर्ष के समर्थन एवं एमएम कलबुर्गी, गोविंद पानसारे, इस्मत चुगताई, भीष्म साहनी और चितप्रसाद की याद में समर्पित  है।

Udaipur Film Festivalभाटी ने बताया कि कार्यक्रम में फिल्मकार व रंगकर्मी उमा चक्रवर्ती, इफ्फत फातिमा, नकुल साहनी, विक्रमजीत गुप्ता, समन हब्बीब, प्रसिद्ध किस्सागो संजय मट्टू, पुष्पा रावत तथा कुमार गौरव का सानिध्य प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि परिचर्चा में भंवर मेघवंशी, मेघराज तावड़, रमेश नंदवाना, कैलाश मीणा, राजेश सिंघवी तथा चंद्रदेव ओला शामिल होंगे। तीन दिवसीय आयोजन में फिल्मों, प्रसिद्ध किस्सागों संजय मट्टु के किस्सों और कहानियों से सरोबार किया जाएगा।आयोजन के पहले दिन चित्र प्रर्दशनी से उद्घाटन के बाद खून दियो बराव फिल्म जो कि इफ्फत फातिमा द्वारा निर्मित है का प्रदर्शन सहित कटियाबाज फिल्म जो कि दीप्ति कक्कड़ व फहाद मुस्तफा द्वारा निर्मित फिल्म एवं कोर्ट फिल्म का भी प्रदर्शन किया जाएगा। बात करे कटियाबाज फिल्म की तो यह बिजली की बार बार कटौती और मनमाने बिलों से परेशानी सहित अमीरों के घरो और फैक्ट्रियों में बिजली सप्लाई एवं गरीब मजदूरों के घरों में बिजली की कटौती को लेकर बनाई गई है। लोहा सिंह जो फिल्म कटियाबाज फिल्म के नायक नायक. कभी भारत का मैनचेस्टर कहलाने वाले और आज पुरानी मीलों के बंद होने के बाद बदहाल कुटीर उद्योगों के केंद्र कानपुर के हैं लोहा सिंह. वे कटियाबाज हैं जो बिजली के तारों पर कटिया डालकर लोगों को अवैध बिजली उपलब्ध कराते हैं. क्या कहा आपने वे चोर हैं ? लेकिन कानपुर की छोटी मिलों के मजदूर और अनियमित कॉलोनियों के निवासी तो उन्हें भगवान मानते हैं !

फिल्म नौकरशाही की काहिली और बेबसी को भी बड़े धारदार तरह से सामने रखती है. वरुण ग्रोवर लिखित और इंडियन ओशेन द्वारा संगीतबद्ध गीतों से सजी इस दस्तावेजी फिल्म में किसी फीचर फिल्म की सी कथात्मकता है.

इसी तरह से कोर्ट फिल्म जो कि मराठी फिल्म है जिसके निर्देशक चैतन्य मात्हाणे है जिसका प्रदर्शन भी इसी दिन किया जाएगा।

इसी के साथ इस दिन इन फिल्मों पर साथ साथ चर्चा भी की जाएगी।

इसी तरह 26 व 27 सितंबर को भी विभिन्न दस्तावेजी फिल्मों के प्रदर्शन सहित विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कियाज् जाएगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *