Menu
News

उदयपुर में खुलेेगा फर्नीचर सेक्टर का देश का पहला रीजनल स्किल चेप्टर

फर्नीचर एवं फिटिंग्स स्किल काउन्सिल(FFSC) के अंतर्गत उदयपुर में खुलेेगा फर्नीचर सेक्टर का देश का पहला रीजनल स्किल चेप्टर।

उदयपुर में 25 जुलाई को केन्द्रीय कौशल एवं उद्यमिता मंत्रालय व फर्नीचर एंड फिटिंग सेक्टर स्किल काउंसिल, द्वारा स्किल इंडिया मिशन योजना के तहत कौशल भारत योजना आरपीएल योजना में कार्य करने वाले उदयपुर संभाग में फर्नीचर सेक्टर/उद्योग के कारपेंटर एवं लीड कारपेंटर के लिये 2 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसके समापन पर 170 प्रतिभागियों को कौशल प्रमाण पत्र और टूल किट वितरीत किये गये।

CEMCA द्वारा आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में सभी प्रतिभागियों को टी शर्ट व कैप प्रदान की गई। दो दिवसीय प्रमाण पत्र कार्यक्रम के तहत पहले दिन इराज लिमिटेड कंपनी में सभी सफल प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र तथा टूल किट काउंसिल के सीईओ राहुल मेहता,सीटेट CETT के प्रिंसिपल राजकुमार बागोरा , आईएसटीडी (ISTD) चेयरमैन अरूण मांडोत एवं इराज इवोल्यूशन के डायरेक्टर मनन खेतान द्वारा दिया गया।

इस अवसर पर काउंसिल के नेशनल हेड राहुल मेहता ने कौशल भारत योजना में काउंसिल की भूमिका के बारे में विस्तृत रूप से बताते हुए बताया कि काउंसिल पूरे भारत में युवाओं को उनके हुनर के अनुसार फर्नीचर सेक्टर से संबंधित कार्य क्षेत्र में उन के कौशल का निर्माण कर न सिर्फ रोजगार से जोड़ रही वरन स्वरोजगार से जोड़ कर उन्हे स्वावलंबी भी बना रही है। काउंसिल द्वारा आने वाले समय में उदयपुर में फर्नीचर सेक्टर का देश का पहला रीजनल स्किल चैप्टर भी बनाया जा रहा है जिस में इंडस्ट्री और कामगारों को जोड़ कर इस इंडस्ट्री में प्रशिक्षण और रोजगार को आपस में जोड़ा जाएगा । जिस से युवाओं को फर्नीचर सेक्टर में रोजगार के अवसर प्रदान किए जायेंगे।

सीईटीटी प्रिंसिपल राजकुमार बागोरा ने कहा की फर्नीचर सेक्टर में कुशल युवाओं की बहुत आवश्कता है। इस हेतु युवाओं को जागरूक करने की जरूरत है। आईएसटीडी चेयरमैन अरूण मांडोत ने कहा कि आज के समय में नित्य नए नए रोजगार और स्वरोजगार के क्षेत्र खुल रहे है, निश्चित ही फर्नीचर सेक्टर भी एक नए रूप में बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है। इराज इवोल्यूशन के डायरेक्टर मनन खेतान ने बताया कि फर्नीचर इंडस्ट्री में आज भारत बहुत तेजी से विकास कर रहा है, इस से इस क्षेत्र में कुशल युवाओं की मांग बहुत तेजी से बढ़ी हैं, आईएवो इंडस्ट्री में आज के समय में कई लोग इस सेक्टर में काम कर अपनी आजीविका चला रहे है।  विनायक फर्नीचर पर आयोजित कार्यक्रम में महेंद्र पोखरना द्वारा प्रमाण पत्र और टूल किट दिया गया। वुडन स्ट्रीट पर आयोजित कार्यक्रम में फाउंडर लोकेंद्र राणावत एवं वीरेंद्र सिंह राणावत द्वारा प्रमाण पत्र और टूलकिट दिया गया।

गवर्नमेंट आईटीआई में आयोजित कार्यक्रम में प्रिंसिपल नीरज नागौरी, वाइस प्रिंसिपल खंडेलवाल, यूसीसीआई चेयरमैन कोमल कोठारी ,पुष्पा हैंडीक्राफ्ट के एमडी दीपक भंसाली, राउंड टेबल के चेयरमैन दीपेश कोठारी  द्वारा प्रमाण पत्र एवं टूलकिट दिया गया। इस अवसर पर  नागोरी ने ट्रेनिंग और रोजगार को आपस में जोड़ने की महत्ती आवश्यकता के बारे में बताया । यूसीसीआई चेयरमैन कोठारी ने कहा की इस क्षेत्र में रोजगार के बहुत अवसर है और युवाओं को इस से जुड़ना चाहिए ।

कार्यक्रम का संचालन एफएफएससी काउंसिल (FFSC) के नॉर्थ सेंट्रल हेड शुभम गांधी द्वारा कोविड गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए किया गया।

No Comments

    Leave a Reply