fbpx
shuchismita das at ritu vasant, shilpram
photo credit: shilpgram

शिल्पग्राम में ‘ऋतू वसंत’, होगा क्लासिकल डांस और म्यूजिक फेस्टिवल


अगर आप उदयपुर में रहते हो तो भाग्यशाली हो। भाग्यशाली इसलिए क्योंकि यह शहर आपको कभी यह सोचने पर मजबूर नहीं करेगा कि ‘कुछ है नहीं करने को तो क्या किया जाए’? यह शहर त्योहारों और उत्सवो का शहर है। शायद ही साल का कोई ऐसा एक महिना भी होगा जो बिना किसी त्यौहार, उत्सव या मेले के जाता हो।

ऐसा ही एक और उत्सव मार्च में आने वाला है, ‘ऋतू वसंत’। जिसे पश्चिमी क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र आप लोगो के सामने लेकर आ रहा है। शिल्पग्राम इस फेस्टिवल को होस्ट करेगा। यह एक तीन दिवसीय फेस्टिवल है जिसमें देश के ख्यातनाम, विश्व प्रसिद्ध शास्त्रीय कलाकारों की प्रस्तुतियां होंगी। यह सभी प्रस्तुतियां शाम 7 बजे से शुरू होंगी। इस दौरान पद्म विभूषण सम्मानित डॉ सोनल मानसिंह भी आएगी।

कुछ इस तरह रहेगा ‘ऋतू वसंत’ –

dr. sonal mansingh at ritu vasant, shilpram
photo credit: shilpgram

9 मार्च पहला दिन: पद्म विभूषण सम्मानित डॉ सोनल मानसिंह की कथाअट्टम प्रस्तुति होगी।

 

 

shuchismita das at ritu vasant, shilpram
photo credit: shilpgram

10 मार्च दूसरा दिन: शुचिस्मिता दास की शास्त्रीय गायन प्रस्तुति होगी ।

 

 

anupama bhagwat at ritu vasant, shilpram
photo credit: shilpgram

11 मार्च तीसरा दिन: सितार वादन की प्रसिद्ध कलाकार अनुपमा भागवत अपनी कला से लोगों को लुभाएँगी साथ ही जयपुर घराने के प्रसिद्ध कलाकार हरीश गंगानी व दल के द्वारा होगी शानदार कत्थक प्रस्तुति।

 

9 मार्च तक होली का पक्का कलर भी उतर ही जाएगा। तो क्यों न क्लासिकल डांस और म्यूजिक के सात रंगों में खुद को रंग लिया जाए, उम्मीद है यह रंग लम्बे समय तक आपके दिलो-दिमाग पर छाया रहेगा। 🙂

Facebook Comments

Like it? Share with your friends!

Shubham Ameta

इंजीनियरिंग से ऊब जाने के हालातों ने लेखक बना दिया। हालांकि लिखना बेहद पहले से पसंद था। लेकिन लेखन आजीविका का साधन बन जाएगा इसकी उम्मीद नहीं थी। UdaipurBlog ने विश्वास दिखाया बाकि मेरा काम आप सभी के सामने है। बोलचाल वाली भाषा में लिखता हूँ ताकि लोग जुड़ाव महसूस करे। रंगमंच से भी जुड़ा हूँ। उर्दू पढ़ना अच्छा लगता है। बाकि खोज चल रही है, जो ताउम्र चलती रहेगी। निन्मछपित सोशल मीडिया पर मिल ही जाऊँगा, वहीं मुलाक़ात करते है फिर।

One Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *