विश्व की सबसे ऊंची शिव जी की मूर्ति मेवाड़ में !

0

| ॐ नमः शिवाय |

पूरे मेवाड़ के लिए ये काफी गर्व की बात है । कई लोग इस बात से रूबरू होंगे लेकिन जिन लोगो को इस बारे में नहीं पता उन्हें बता दिया जाए की विश्व की सबसे बड़ी शिव जी की मूर्ति अब मेवाड़ में बनने जा रही है । उदयपुर से 48 किमी की दूरी पर मौजूद नाथद्वारा नगर में यह मूर्ती बनने जा रही है । नाथद्वारा पहले ही श्रीनाथजी के मंदिर के लिए पुरे भारत में काफी मशहूर है और अब इस मूर्ती के कारण यह पुरे विश्व में मशहूर हो जाएगा। उदयपुर से नाथद्वारा जाने के लिए करीब 1 घंटा लगता है । नाथद्वारा में यह मूर्ती श्रीनाथजी मंदिर, 120 रोड पर बनेगी । मूर्ती की नींव का पत्थर पूज्य मुरारी बापू द्वारा किया गया था और वहां राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी मौजूद थे ।

विश्व की सबसे ऊंची शिव जी की मूर्ति मेवाड़ में
Source: Youtube

कुछ बातें नाथद्वारा के बारे में

नाथद्वारा नगर उदयपुर से 48 किमी की दूरी पर बसा एक छोटा सा नगर है । नाथद्वारा का मतलब ही है श्रीनाथ जी का द्वार । असल में नाथद्वारा का यह नाम इसलिए है क्योंकि यहाँ एक बहुत ही मशहूर कृष्णा भगवान् का मंदिर है जिसमे श्रीनाथ जी की मूर्ती विराजमान की हुई है । यह मंदिर 17 शताब्दी में बना था और इसकी जगह श्रीनाथ जी के कहने पर ही तय हुई थी । जब भगवान श्री कृष्णा की इस मूर्ती को मुग़ल के शासक औरंगज़ेब से बचाने के लिए वृन्दावन से ले जाया जा रहा था तब ही रास्ते में वह बैलगाड़ी कीचड में फस गई । तभी साथ में चल रहे पंडितों को यह अहसास हुआ की भगवान ने अपने मंदिर के लिए खुद यही जगह तय की है ।

 

कुछ बातें मूर्ती के बारे में

  • विश्व की यह सबसे बड़ी मूर्ती की कुल लम्बाई 351 फीट है ।
  • मूर्ती में शिव जी के चेहरे की कुल लम्बाई 70 फीट होगी ।
  • भगवान् शिव जी की मूर्ती में शिव जी के हाथो में एक त्रिशूल भी है जिसकी कुल लम्बाई 315 फीट है ।
  • इस मूर्ती में शिव जी दूसरी मूर्तियों की तरह सामान्य रूप से आशीर्वाद देते हुए एवं त्रिशूल पकड़ते हुए नहीं बल्कि आराम से बैठे हुए नज़र आएँगे ।

    Source: Tushar Joshi via Instagram
  • इसकी संरचना तैयार हो चुकी है और अब प्रतिमा का काम चालु होगा ।
  • इस विशालकाय मूर्ती का निर्माण मिराज कंपनी करवा रही है ।
  • बैठे हुए इन महादेव जी की मूर्ती को कोई भी कम से कम 5-7 किमी दूर से देख सकेगा ।
  • दूर दूर से आये दर्शको के दर्शन की आसानी के लिए इस मूर्ती पर 74 फीट की ऊंचाई वाली 2 लिफ्ट लगेगी ।
  • यह लिफ्ट महादेव जी के कंठ तक पहुचेगी ।
  • इस मूर्ती को तैयार करने का लक्ष्य 1 दिसंबर 2018 तक का है । तो तकरीबन 6 महीनों में यह मूर्ती पूरी हो जाएगी ।
  • 6 लाख 74 हज़ार स्क्वायर फीट में बनेगी जिसमे प्रतिमा का कुल एरिया 27 हज़ार स्क्वायर फीट होगी ।
  • इसके आस पास 15400 स्क्वायर फीट एरिया में हर्बल गार्डन बनाया जाएगा जहाँ बच्चो के लिए झूले बनेंगे ओर बड़ो के आराम करने के लिए गार्डन बनाया जाएगा ।
  • 3 कीमी लम्बी परिक्रमा मूर्ती के आस पास बनेगी उन लोगो के लिए जो जॉगिंग करना चाहते है ।
  • पार्किंग सुविधाए यहाँ उपलब्ध होगी ।
  • इस विशाल मूर्ती के निर्माण में करीब 2200 टन स्टील और 1800 टन लोहा लगेगा और इसमें RCC सीमेंट का इस्तेमाल होगा ।
विश्व की सबसे ऊंची शिव जी की मूर्ति मेवाड़ में
Source: vexmddotwebsite

कुछ बातें मूर्तिकार के बारे में

विश्व की सबसे बड़ी शिव जी की इस मूर्ती का निर्माण मूर्तिकार नरेश कर रहे है । नरेश की तीन पीढ़िया मूर्ती बनाने के कार्य से जुडी हुई है । मूर्तिकार नरेश राजस्थान के पिलानी में रहते थे लेकिन अब वो गुरुग्राम में रहते है । उनका कहना है की शिव जी की मूर्ती बनाने में कुछ ऐसी तकनीक का इस्तेमाल हुआ है जैसा अमेरिका की सबसे मशहूर मूर्ती ‘स्टेचू ऑफ़ लिबर्टी’ में हुआ था । नरेश ने इससे पहले भी कही मूर्तियाँ बनायीं है । आपको बता दे की विश्व की सबसे ऊंची हनुमान जी की मूर्ती भी मूर्तिकार नरेश के ही हाथों बनायी गई है ।

सभी मेवाड़ वासी एवं दुनिया में सभी शिव जी के भक्तों के लिए ये काफी ख़ुशी की बात है की शिव जी अब उन्हें कई बड़े अवतार में दर्शन देंगे ।

 

 || आंधी तूफ़ान से वो डरते है,

जिनके मन में प्राण बसते है

वो मौत देखकर भी हसते है

जिनके मन में महाकाल बसते है ||

जय महाकाल, हर हर महादेव

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.